कई घंटे बिजली कटौती का गाँवो में दिखा असर, सोलर लगाना ही है एकमात्र उपाय |

Solar Is Best Option for Electricity Cut Off


बिजली विभाग की ओर से कोयले की कमी के चलते शनिवार को बिजली की कटौती के कारण लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा | भिंडर, वल्लभनगर, लूणदा सहित कई तहसीलों में खेरोदा, हिन्ता, धारता, केदारिया, फतहनगर, मेनार आदि कई गाँवो में बिजली की कटौती की गई | इन तहसीलों के 100 से अधिक गाँवो में शाम 6 बजे से बिजली काटी गई जो रात्रि 10 बजे तक बहाल हो पाई | जिसके चलते लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा |

ग्रामीणों को आई समस्या !


शाम को 6 से 10 बिजली काटे जाने के कारण लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है | ग्रामीणों का कहना है कि शाम को 6 से 10 बिजली काटने का समय बदला जाना चाहिए क्योंकी शाम का समय लोगो के खाना खाने का समय होता है तथा उसी समय अँधेरे के कारण लोगो काफी समस्या आ रही है |
लोगो का कहना है कि शाम के वक़्त बिजली काटने की बजाय बिजली दिन में काटी जाये जिससे जनता को ज्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़े |

अब बात यहाँ पर आती है कि अगर ये प्रक्रम ऐसा ही चलता रहा तो क्या होगा | आने वाले टाइम में देश में बिजली का बहुत बड़ा संकट खड़ा हो जाएगा |
लेकिन यहाँ पर आपको घबराने की जरुरत नहीं है क्योंकी इस समस्या का निपटारा आप कर सकते है | आप सोलर लगा कर इस समस्या से निजात पा सकते है |
यहाँ पर हम छोटे से छोटे घरों से लेकर बड़े घरो के लिए आप सोलर कैसे लगा सकते है इसकी पूरी जानकारी बता रहे है | तथा आपको सोलर लगवाने में क्या क्या उपकरण लेने है यह भी आप जानने वाले है |

आधा किलोवाट सोलर पैनल किसे लगाना चाहिए


ऐसे छोटे मकान जहाँ पर लोगों के पास सिर्फ एक बल्ब तथा एक पंखा है उन घरो में आधा किलोवाट सोलर पैनल से काम चल जायेगा | तथा आधा किलोवाट सोलर पैनल से ये लोग अपने बिजली की आपूर्ति कर सकते है |


अब बात आती है जिनके पास पैसे कम है वो लोग 10 से 15 हजार रुपये में एक छोटे सोलर सिस्टम द्वारा एक DC लाइट तथा एक DC पंखा चला सकते है | इस सिस्टम में एक 100 वाट की सोलर प्लेट, 40 Ahकी बैटरी तथा एक चार्ज कंट्रोलर आता है | इसमें आप 35 वाट का पंखा तथा 10 वाट का बल्ब ले लीजिये | जो DC होने चाहिए |
ये सारा सिस्टम 10 से 15 हजार रुपये में आपको बाज़ार में मिल जाता है जिसमे DC पंखा, 1 हजार से पंद्रह सो रुपये, DC LED बल्ब 150 रुपये में मिल जाता है | इसके साथ ही 4 से 5 हजार रूपये में आपको सोलर प्लेट मिलती है | यह ऑनलाइन भी आप खरीद सकते है |
( यहाँ इस सिस्टम को ऑनलाइन खरीदने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें )

100 Watt Solar Panel


इसके बाद आपको बैटरी जो 40 Ah की लेनी होती है | क्योंकी हम जितना Ah की बैटरी लेते है उससे हमें डबल वाट का सोलर पैनल लगाना पड़ता है |
इसके बाद में आपको 6 से 10 एम्पियर का चार्ज कंट्रोलर लेना होता है | इस तरह आप एक छोटा सोलर सिस्टम खरीद सकते है |

एक किलोवाट सोलर पैनल किसे लगाना चाहिए ।


एक किलोवाट सोलर पैनल उन लोगो को लगाना चाहिए जिनके घर में 2 से 3 पंखे, 4 से 6 LED बल्ब तथा फ्रीज तथा कूलर होता है |


एक किलोवाट सोलर पैनल सिस्टम की कीमत लगभग 60 से 70 हजार रुपये होती है जिसमे 1 हजार वाट की सोलर प्लेटें आती है | तथा 150 Ah की 2 सोलर बैटरी तथा 1.5 किलोवाट का इन्वर्टर लगाना होता है | तो ये आपके घर के लोड को आसानी से चला सकता है |

3 किलोवाट सोलर सिस्टम किसे लगाना चाहिए ?


3 किलोवाट सोलर सिस्टम बड़े घरो में लगाना चाहिए जिनमे 8 से 12 LED बल्ब, 5 से 7 पंखे, होज की मोटर, कोई एयर कंडिशनर भी चलाना चाहता है, वहाँ पर हमारा सुझाव है कि आप 3 किलोवाट सोलर सिस्टम लगायें |
3 किलोवाट सोलर सिस्टम के खर्च की अगर हम बात करे तो यह लगभग 2 लाख से ज्यादा का खर्चा आता है | अगर आप इस सोलर सिस्टम में MPPT टेक्नोलॉजी का इन्वर्टर लेंगे तो आपके घर का लोड सीधे सोलर से चलता रहता है | बैटरी भी इसमें लगी रहती है | इसमें आपको रात में कितना बैकअप चाहिए उसके हिसाब से आप बैटरी लगा सकते है तथा बैटरी की संख्या को बढ़ा सकते है |

5 किलोवाट सोलर सिस्टम किसे लगाना चाहिए ?


5 किलोवाट सोलर सिस्टम उन लोगो को अपने घरो में लगाना चाहिये जिनके घर में 2 से 3 AC या एयर कंडिशनर चलते हो, पानी की मोटर, 3 HP की आटा चक्की, तथा लाइट, पंखे तथा घर का सारा सिस्टम चला सकते है |
इस सोलर सिस्टम में भी आप MPPT टेक्नोलॉजी का इन्वर्टर लेंगे, तथा सोलर पैनल 5000W वाट के होंगे |इसमें आपको  MPPT इन्वर्टर से दिन में सीधे सोलर से व रात को बैटरी से उपकरण चलाएंगे इससे बैटरी का खर्च कम हो जाएगा ।।
इस सोलर सिस्टम की कीमत लगभग 3 से 3.50 लाख रुपये तक आती है |

खेतो में सिंचाई के लिए कौनसा सोलर पैनल लगायें ?


बिजली की कटौती अभी खेतो में भी हो रही है जिससे किसानो को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है क्योंकी इस समय रबी की फसल की बुवाई का काम चल रहा है | तथा बिजली की कटौती से किसान सिचाई नहीं कर पा रहे है |
तो किसान साथियों घबराने की कोई आवश्कता नहीं है, अगर आपके पास 1 HP का पंप है तो आप 1 किलोवाट सोलर सिस्टम लगवाइए | इसी तरह 2HP पंप के लिए 2 किलोवाट सोलर सिस्टम, 3HP पंप के लिए 3 किलोवाट सोलर सिस्टम लगवाइए | यानि आपके पास जितने HP का पंप हो आप उतने किलोवाट का सोलर सिस्टम लगवा सकते है |
इसी तरह अगर आप नया सिस्टम लगवा रहे है तो आप सोलर पंप- मोटर को  खरीदिये , सोलर पंप डालने से  आपको पानी का फ्लो भी अच्छा देखने को मिल जाता है | तथा पंप स्पीड से पानी देता है | इससे आपकी सिंचाई भी दिन में ज्यादा होगी और आपको काफी फायदा होगा |


इस नए सिस्टम के खर्च की अगर हम बात करें तो 3 HP के सिस्टम की कीमत 1,80,000 रुपये होती है | जिसमे किसान को सोलर सिस्टम, सोलर मोटर सहित सब कुछ मिल जाता है | सिर्फ बोरिंग किसान का रहता है |
5 HP के इस सोलर पंप सिस्टम की कीमत 2,30,000 रुपये तक होती है | तथा 3 लाख रुपये में आपको 7 HP का सिस्टम मिल जाता है |

solar पर सब्सिडी कैसे प्राप्त करें ?


सोलर सिस्टम पर हर राज्य में अलग अलग सब्सिडी प्राप्त होती है | सब्सिडी पाने के लिए सबसे पहले आप कृषि विभाग में सम्पर्क करे | वहाँ पर आपको सारी जानकारी बता दी जाती है | इसके बाद में आपने जिस डीलर से सोलर पैनल ख़रीदा है उसके पास से सोलर पैनल का पक्का GST बिल प्राप्त करें | इसके बाद वो खुद आपकी डाक्यूमेंट्स की फाइल तैयार करते है | इसके बाद आपको यह तैयार हुई फाइल को ई – मित्र पर जाकर ऑनलाइन करवानी पड़ती है | फाइल ऑनलाइन करवाने के बाद इसकी हार्ड कोपी को आप कृषि विभाग में जमा करवा दीजिये |
इसके बाद जिस राज्य में आप रहते है उस राज्य की सरकार कितनी सब्सिडी देती है इसके हिसाब से आपको सब्सिडी मिल जाती है | कई राज्यों में सरकारे 40 % से 70 % तक सब्सिडी देती है तथा कही कही सब्सिडी नहीं मिलती है | ये आपको पता करके ही सब्सिडी के लिए अप्लाई करना है |
सब्सिडी आने में 1 महिने से लेकर 1 साल तक का भी समय लग सकता है | तथा मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में गोटियाँ फेकी जाती है जिसकी गोटी खुलती है वहाँ उस व्यक्ति को सब्सिडी दी जाती है |

तो इस तरह आपसे हमारा निवेदन है कि आप घबराए नहीं बिजली को बचाए तथा सोलर को अपनाये, तथा बिजली के इस संकटकाल में सोलर को अपनाकर अपनी समस्या दूर करे | अगर आप अपने घर पर सोलर लगाते है तो कोयला बचेगा तथा कोयले से बिजली सरकार को कम उत्पादन करना होगा तथा जिससे वातावरण शुद्ध होगा तथा यह बिजली का संकट भी दूर हो जाएगा | क्योंकी सोलर लगने के बाद जब तक सूर्य है तब तक बिजली रहेगी, धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: