आपके लिए सोलर लगाना कहां कहां फायदे का सौदा है ?

वर्तमान में नवीनकरणीय उर्जा का चलन बहुत ज्यादा है किसानों के लिए तो सोलर वरदान बन गया है , किसान को विद्युत के सिंचाईं पर कई सारी समस्याओ का सामना करना पड़ता है| जैसे बिजली की कटौती, भारी भरकम बिल, रात की सिंचाई में सांप जैसे जानवरों का डर अगर आप इन समस्याओं से निकलना चाहते है तो आप सोलर लगाइए आप DC व AC दोनों ही पम्प चला सकते है | AC पम्प को चलाने के लिए VFD का उपयोग किया जाता है|

आइये जानते है आपके लिए सोलर लगाना कहां कहां फायदे का सौदा है ?

खेतों में रखवाली के लिए सोलर :-

सबसे बड़ी समस्या खेतो में रखवाली के लिए किसान खेत पर ही रहते है| गर्मी, सर्दी, बरसात में खेत पर बल्ब या पंखा जलाना बहुत मुश्किल है| पर अगर आप वहाँ एक छोटा सोलर लगाकर इस समस्या का निदान पा सकते है|

खेत तारबंदी झटका मशीन में सोलर :-

जब किसान जंगली जानवरों से फसल बर्बादी से तंग आ जाता है तो उसे एक ही समाधान दिखाई देता है वह है टार बंदी करना साथ ही एक झटका मशीन लगाना इस मशीन से कोई भी जानवर मरता नही है सिर्फ एक हल्का सा जतका लगता है जिससे जानवर डर जाते है और वापिस खेत में फसल बर्बाद करने नही आते है इसमें 12 वोल्ट की बैटरी लगी रहती है जिसे चार्ज करने के लिए 40 से 50 watt का सोलर पैनल का उपयोग किया जाता है |

खेत तारबंदी झटका मशीन में सोलर

घरो में सोलर का उपयोग :-

दोस्तों घरो में सोलर दो कारणों से लगाये जाते है पहला ज्यादा समय तक बिजली की कटोती या बिजली की सुविधा बिलकुल नही दूसरा बिजली तो 24 ही घंटे उपलब्ध लेकिन भरी भरकम बिल से छुटकारा के लिए आप अपने घरो पर स्थान पर आवश्यकतानुसार सोलर पैनल लगाव सकते है !

सामान्यतया घरो में सोलर का उपयोग लाइट पंखे टीवी आदि चलाने में किया जाता है|

कार्यालय में सोलर का उपयोग :-

जब आप कार्यालय खोलकर बेठे है और बिजली की सुविधा बराबर नही है तो आप सोचा सकते है कितना नुकसान हो सकता है सामन्यतया आप सोलर सिस्टम का उपयोग हमेशा ऑफिस में Computer, Printer, Bulb, Fan, Cooler, आदि चलाने में कर सकते है !

मछली पालन में सोलर का उपयोग :-

मछली पालन में लोग एक कृत्रिम जलाशय बनाते है, जिसमे हमेशा बहता हुआ पानी चाहिए उसके लिए पानी के पम्प का उपयोग करते है और वहा तक यदि बिजली की सुविधा नही है तो आप सोलर का उपयोग कर सकते है साथ ही जो मछुआरे होते है वह समुद्र व जलाशय के तट पर रहते है और वहा रात को बल्ब जलाने के लिए आप सोलर का उपयोग कर सकते है !

मछली पालन में सोलर का उपयोग

सब्जी विक्रेता व चाट ठेला गाड़ी के लिए सोलर :-

दोस्तों आपने हर शाम सडक किनारे सब्जी विक्रेता या पानी पूरी, चाट जैसी ठेला गाड़ी पर छोटे बल्ब जलते हुए देखे होंगे जो एक सामान्यतया dc बल्ब होते है और उसके साथ ही में एक बैटरी सिस्टम होता है आप बैटरी को चार्ज करने के लिए सोलर पैनल का उपयोग कर सकते है !

नाव में सोलर का उपयोग

दोस्तों आज के वर्तमान में सौर उर्जा के प्रति लोग भुत जागरुक है और रहना भी चाहिए आपने खी समुद्र में एसी नाव भी देखि होगी जिसके उपर सोलर पैनल देखे होंगे दोस्तों सामान्यतया इनका उपयोग मोबाइल, लैपटॉप व बैटरी चार्जिंग जो की रात में dc बल्ब के लिए व यदि आप टीवी, माइक्रोवेव, या हेअर ड्रायर) पर कुछ रोजमर्रा के घरेलू उपकरणों का उपयोग करते हैं, तो वे एसी बिजली पर चलने की संभावना है और आपको एक इन्वर्टर की आवश्यकता होगी।

भारत की पहली सौर ऊर्जा संचालित नौका

केरल में भारत की पहली सौर ऊर्जा संचालित नौका सेवा को वाईकॉम और थवंक्‍काडावू के बीच 12 जनवरी, 2017 को शुरू किया गया था , जो कोट्टायम और अलाप्‍पुझा जिलों को आपस में जोड़ती है । यह परियोजना भारत में इस तरह की पहली परियोजना है जिसे ‘आदित्‍य’ नाम दिया गया है।

नदियों में पानी के लेवल सिस्टम में सोलर का उपयोग : –

दोस्तों जब आपने किसी बांध या नदी के तट पर गुजरते हुए एक छोटा सोलर पैनल लगा हुआ देखा होगा यह पैनल दोस्तों नदी या बांध के पानी लेवल को चेक करने के सिस्टम को ऑपरेट करने के लिए उपयोग में लिया जाता है !

इसे आसान भाषा में समझने के लिए यह विडियो जरुर देखे

साथियों इसी तरह आप कई स्थानों पर सोलर पैनल को उपयोग कर सकते है इसके आलावा यदि आप सोचते है तो आप हमें कमेन्ट करके जरुर बताये !

धन्यवाद

टेक मेवाड़ी टीम

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: