राजस्थान का बजट 2022 – किसानो को मिलेगा 20 हजार करोड़

राजस्थान के बजट का ये है सार : पढ़े बज़ट 2022


राजस्थान सरकार ने 23 फरवरी 2022 को अपना बज़ट जारी कर दिया | जिसे विधानसभा में खुद राजस्थान के मुख्यमंत्री तथा वित्त मंत्री अशोक गहलोत ने प्रस्तुत किया | इस बज़ट का फायदा किस सेक्टर को ज्यादा हुआ तथा किसे कम, ये सारा हाल आप इस आर्टिकल में जानने वाले है |
बज़ट के उपरी सार की बात करे तो cm अशोक गहलोत का गृहनगर जोधपुर सबसे आगे रहा है | अकेले जोधपुर 22 बड़े प्रोजेक्ट अशोक गहलोत ने बजट में प्रस्तुत किये | इसमें मेडिकल सेक्टर को सबसे ज्यादा फायदा मिला | इसके बाद राजधानी जयपुर को सबसे ज्यादा फायदा मिला है | तथा कोटा को तीसरे नंबर पर रखा गया है | इसके बाद अजमेर. उदयपुर, तथा भरतपुर संभाग को भी प्रोजेक्ट मिले है | गहलोत के 3 घंटे के भाषण में आने वाले विधानसभा चुनाव की झलक भी दिखाई दी |


अब जानते है किस सेक्टर को क्या मिला ?

किसानो के लिए क्या ?


पिछले 9 साल से चली आ रही पेंडेंसी को ख़त्म करने के लिए 3 लाख से ज्यादा बिजली कनेक्शन देने की घोषणा की गई | तथा 1 लाख से ज्यादा किसानो को सोलर पम्प लगाने के लिए 60 % से ज्यादा की सब्सिडी दी जाएगी | इसके अतिरिक SC तथा ST को अतिरिक्त छुट मिलेगी |
इसके अतिरिक्त किसानो को 20 हजार करोड़ के फसली लोन मिलेंगे जो कि अब तक के सर्वाधिक है |

राजस्थान की गहलोत सरकार ने 23 फरवरी 2022 को राज्य का बजट 2022 पेश किया। इसमें राज्य के सभी वर्गों के लोगों के लिए बहुत सी लुआवनी घोषणाएं की गईं हैं। इस बजट में सभी वर्गों का ख्याल रखा गया है। वहीं किसानों के हित में भी कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की गई है जो किसानों के लिए लाभकारी साबित होंगी। इस तरह से यह बजट सभी वर्गों के लोगों को खुश करने वाला और संतुलित बजट कहा जा सकता है। आज हम ट्रैक्टर जंक्शन के माध्यम से बजट में किसानों सहित अन्य वर्गों के लिए की गई घोषणाओं के बारे में जानकारी दे रहे हैं। तो आइए डालते हैं एक नजर राजस्थान बजट 2022 पर कि इसमें किसको क्या मिला। 

राजस्थान बजट 2022 में किसानों के लिए 9 प्रमुख घोषणाएं

किसानों के लिए बजट में कई लाभकारी घोषणाएं की गई हैं। इससे किसानों को लाभ होगा। ये घोषणाएं इस प्रकार से हैं-

  • किसानों के लिए सरकार ड्रोन खरीदेगी, ड्रोन से कीटनाशक का स्प्रे करवाया जाएगा। इसके अलावा एफपीओ को ड्रोन दिए जाएंगे। यहां से किसान कृषि कार्य के लिए ड्रोन किराए पर ले सकेंगे।
  • मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का बजट 2 हजार करोड़ से बढ़ाकर 5000 करोड़ किया। इससे अब अधिक किसानों को इसका लाभ मिल सकेगा।
  • इस साल सरकार की ओर से 20 हजार करोड़ के फसली ऋण बांटे जाएंगे। इसमें 5 लाख नए किसानों को फसली ऋण प्रदान किए जाएंगे। इसके अलावा 1 लाख अकृषि परिवारों को भी कर्ज दिया जाएगा।
  • राजस्थान में संरक्षित खेती मिशन को शुरू किया जाएगा। इसके तहत ग्रीन हाउस, शेडनेट हाउस में खेती के लिए टीएसपी क्षेत्र के किसानों को 25 फीसदी अतिरिक्त अनुदान दिया जाएगा। इसके तहत अगले 2 साल में 20 हजार किसानों को 400 करोड़ का अनुदान मिलेगा। पहले साल 10 हजार किसानों को फायदा होगा।
  • राजस्थान फसल सुरक्षा मिशन शुरू किया जाएगा। इसके तहत 35 हजार किसानों को खेतों की तारबंदी के लिए अनुदान प्रदान किया जाएगा। 
  • संभाग मुख्यालयों पर माइक्रो इरिगेशन का सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनेगा।
  • राजस्थान ऑर्गेनिक फार्मिंग मिशन और मुख्यमंत्री जैविक खेती मिशन शुरू होगा। 
  • मिलेट प्रोसेसिंग यूनिट के लिए 40 करोड़ अनुदान दिया जाएगा। जोधपुर में बाजरे का सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनेगा।
  • राज्य के सभी जिलों में किसानों को सिंचाई के लिए दिन में बिजली अनुदान दिया जाएगा। 

आम आदमी के लिए क्या ?


प्रदेश सरकार महिलाओं को मुफ्त नेट तथा वर्क फ्रॉम होम की सुविधा देगी तथा महिला सशक्तिकरण पर ध्यान दिया जायेगा | इसके लिए चिरंजीवी योजना में रजिस्टर्ड 1 करोड़ से ज्यादा महिलाओ को मुफ्त मोबाइल तथा डाटा मिलेगा |
60 लाख उपभोक्ताओ को 50 यूनिट तक बिजली फ्री दी जाएगी तथा 150 यूनिट बिजली उपभोग पर 3 रु. की छुट तथा 150 से 300 यूनिट बिजली टक्के उपभोग पर 2 रु. तक की छुट मिलेगी |
बिजली पर दी जाने वाली सब्सिडी पर सरकार 4000 करोड़ रु. खर्च करेगी | तथा 100 वर्ग तक के मकान लेने पर एक्साइज ड्यूटी 1 % तक घटाई गई |
मनरेगा की तर्ज पर शहरी इशरेगा की शुरुआत होगी जिसमे 100 दिन का काम दिया जायेगा |

युवा वर्ग के लिए क्या ?


युवा वर्ग को खुश करने के लिए सरकार 1 लाख नोकरियाँ देंगी तथा जिसमे रीट की 62 हजार की भर्ती भी शामिल है तथा इसके अतिरिक्त प्रदेश में 1 हजार नए इंग्लिश मीडियम स्कूल खुलेंगे जिसके लिए 10 हजार शिक्षको की भर्ती भी होगी | तथा 2 हज़ार नए औद्योगिक कर्मियों की भी भर्ती होगी |

इसके अतिरिक्त 19 साल बाद पुराणी पेंशन बहाल होगी जिसमें 1 जनवरी 2004 से लगे कर्मचारियों को भी पेंशन की सुविधा मिलेगी |

हेल्थ सेक्टर को क्या मिला ?


चिरंजीवी हेल्थ केयर बिमा में 10 लाख तक का इलाज मुफ्त मिलेगा | तथा इसमें 5 लाख तक का दुर्घटना बिमा भी दिया जायेगा | इसके अतिरिक्त ओ.पी.डी. को पूरी तरह से मुफ्त किया जायेगा |
इसके अतिरिक्त दो नयी रिको मिले तथा स्टोन की मिले तथा फ़ूड इंडस्ट्री की फेक्ट्रियां भी खोली जाएगी |

शिक्षा पर खर्च


राज्य में करीब 1000 से ज्यादा सरकारी स्कूलों को क्रमोन्नत किया जायेगा जिसमे उदयपुर जिले में 186 माद्यमिक स्कूलों को उच्च माध्यमिक तथा 600 से ज्यादा प्राथमिक स्कूलों को उच्च प्राथमिक स्कूलों में क्रमोन्नत किया जायेगा | प्रदेश में 5000 से ज्यादा आबादी वाले गाँवो में महात्मा गाँधी स्कूल खोले जायेगे | इसके आलावा बाकि जिलो में भी स्कूलो को क्रमोन्नत किया जायेगा |

इसके अतिरिक्त उदयपुर में य़ूआई टी विकास केंद्र तथा दो नए औद्योगिक क्षेत्र भी खोले जायेंगे जिसमे गोगुन्दा तथा वल्लभनगर शामिल है तथा मावली के लिए पहले ही जमींन आवंटित है | तथा पर्यटन को नयी इंडस्ट्री घोषित करने से भी लेकसिटी को नयी उड़ान मिलेगी |

इसके अतिरिक्त केंद्र सरकार की तर्ज पर राज्य में भी स्मार्ट सिटी योजना लोंच हुई है | जिसमे जोधपुर, बीकानेर धोलपुर, भीलवाडा तथा चितोड़गढ़ में 1500 करोड़ के विकास कार्य किये जायेंगे |
इसके अतिरिक्त राजधानी जयपुर को राजधानी होने का सीधा फायदा मिला है जिसमे जयपुर 1185 करोड़ रुपये मेट्रो के विस्तार के लिए खर्च होंगे तथा इसके अतिरिक्त 1000 करोड़ रुपये जयपुर में अन्य विकास कार्यो पर खर्च होंगे |
इस तरह हमने आपको बज़ट को मोटे तौर पर समझा दिया है | तथा अगर आपको विस्तार से बज़ट के बारे में जानना है तो आप मुख्यमंत्री के बजट अभिभाषण को पढ़ सकते है |
अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो इसे अधिक से शेयर करे, धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: