लोग सोलर क्यों नहीं लगाते है ? सबसे बड़े कारण जाने

Why People are not Installing Solar Panels in India ?

सौर उर्जा आज के समय में स्वतंत्र खुद का पॉवर हाउस है जब चाहे तब बिजली का उपयोग कर सकते है कई सारे लोग इस उर्जा को अपना रहे है लेकिन कुछ लोग सोलर से खुश नहीं वो अपने छत पर सोलर नही लगवाना चाहते है आइये जानते है की लोग सोलर क्यों नही लगवाते है

सोलर लगवाने में खर्च ज्यादा आता है

क्या आपको भी सोलर पैनल A.C. / फ्रिज / टेलीविजन / बाइक या कार से महँगे लगते है| जब भी बात आती है सोलर सिस्टम लगाने की तो सबसे बड़ा पॉइंट सोलर खर्चीला बहुत लगता है | भले ही वे महँगे बिजली के बिल भरने को तैयार रहते है| लेकिन यहाँ हमारा सुझाव है कि जिनके पास पहले से इन्वर्टर या बैटरी उपलब्ध है, वे आराम से अपने घर पर सोलर पैनल लगा सकते है उनके लिए 1 – 2 सोलर पैनल का खर्च “2 पैनल, चार्ज कंट्रोलर, स्टैंड, DC वायर( क्योंकी सोलर से DC करंट मिलेगी) आदि सबकुछ मिलाकर मात्र 25000 रुपयों की मामूली राशि में पूरा सिस्टम लगा सकते है| यहाँ पर सोलर पैनल का यह खर्च आपके घर में लगी बैटरी या इन्वर्टर पर निर्भर करेगा |

मेरे छत पर जगह नही है

सोलर पैनल नहीं लगवाने का सबसे बड़ा कारण यह है कि लोगो को लगता है कि सोलर पैनल लगवाने से उनकी छत का स्पेस वेस्ट(व्यर्थ) हो जाएगा क्योंकी 1 kw. सोलर पैनल को इनस्टॉल करने के लिए 100 स्क्वायर फीट जगह कि जरुरत पड़ती है| और अधिकतर शहरों में लोग किराये के मकान में रहते है, या फ़्लैट खरीदकर रहते है| तो वे छत को यूज़ ही नही कर पाते है| इस समस्या का समाधान हम आपके लिए लेकर आए है, वह है “ wall mounted solar stand”

इसकी मदद से आप फ़्लैट में रहते हो, या किराये के मकान में, आपको छत कि जरुरत नहीं पड़ेगी| या भले ही छत पर जगह कम हो आप अपने घर की बाहरी दिवार पर भी इस wall mounted solar stand की मदद से सोलर पैनल लगवा सकते है |

बैटरी का खर्च ज्यादा आता है

आपका सोलर नहीं लगवाने का अगला कारण इन्वर्टर बैटरी है| आपको इन्वर्टर या बैटरी में हर पाँच साल में आपको खर्चा करना पड़ता है ! तथा इसे इधर उधर लाने व ले जाने में भी दिक्कत होती है| लेकिन जहाँ ग्रीड बिलकुल नहीं होती है वहां तो आपको बैटरी यूज़ करनी ही पड़ेगी ! यहाँ तक कि हमारे हिसाब से 92% जगह पर ग्रीड विद्युत उपलब्ध है ! यहाँ आपको अलग से इन्वर्टर बैटरी यूज़ नही करनी है| वहाँ सिर्फ सोलर पैनल से काम चल जाएगा ! यहाँ आपको सोलर पैनल का AC modular यूज़ करना है जो बिना इन्वर्टर बैटरी के साथ चलता है ! और आपके महँगे विद्युत बिल को कम करके आपको राहत देता है |

सोलर पैनल पर सब्सिडी कब मिलेगीं

आपका सोलर नही लगवाने का एक और कारण निकल कर आता है| आपका सबसे पहला सवाल ही सोलर पर सब्सिडी मिलेगी या नही ! मिलेगी तो कितने % मिलेगी| आपको हमारा व्यक्तिगत सुझाव यह है कि सब्सिडी केंद्र सरकार कि और से 30% मिलती है ! तथा राज्य सरकार की और से 30% मिलती है| 30% आपको लोन के माध्यम से मिलेंगे तथा शेष राशि आपको अपनी जेब से देनी होती है|
(कुसुम योजना) लेकिन यह बहुत जटिल प्रक्रिया होती है, तथा सब्सिडी मुश्किल से मिलती है ! लेकिन अगर आपको सब्सिडी मिल जाती है तो अच्छी बात है| लेकिन क्या सब्सिडी मिलेगी तो ही आप सोलर लगवाएंगे ! क्योंकी पहले तो आपको पूरी राशि वहन करनी ही पड़ती है ! कभी कभी सब्सिडी तो मिलती है लेकिन लम्बे समय के बाद मिलती है और फिर सोलर लगाये जाते है तब तक आप सब्सिडी से कई गुना ज्यादा बिल भर चुके होते है और सब्सिडी में लगाये गए सिस्टम की वारंटी कम समय की होती है !!

क्या सोलर पेनल किस्तों में मिलता है

आपका सोलर पैनल नहीं लगाने एक और कारण यह है, कि सोलर सिस्टम बहुत खर्चीला है| और आप एक साथ लाखों रूपया नही लगाना चाहते है | क्योंकी सोलर सिस्टम किश्तो पर नहीं मिलते है, जैसे कार , मोटरसाईकिल या अन्य वाहन मिलते है| इससे भी हम सोलर नही लगा पाते है |

इसका उपाय यह है कि बहुत से कामों के लिए पर्सनल लोन या घर के लिए लोन बैंक से हमें मिलता है | इसे हम होम लोन में साथ लगा सकते है तथा पैसा किश्तो में हमारे खाते में आएगा | वर्तमान कुछ बैंक व निजी वितीय कंपनिया सोलर सिस्टम पर लोन देने लग गयी है आप अपने पास ही बैंक शाखा में जाकर पूछ सकते है

गलत तरीके का सोलर सिस्टम का खरीदना

जब आप सोलर सिस्टम खरीदने जा रहे है तो पहले यह निर्धारित कर लीजिये की आपको कोनसा सिस्टम लेना है कभी कभी क्या होता है आपके यहाँ बिजली की कटोती भुत ज्यादा है लेकिन कुछ पैसे बचने के चक्कर में बिना बैटरी वाला ओन ग्रिड सोलर सिस्टम खरीद लेते है फिर पता चलता है की यह तो जब बिजली की कटोती होती है तब कम करता ही नही है फिर इससे आस पडोसी के मन में भ्रम पैदा हो जाता है की सोलर सही से काम नहीं करते है हमें नही लगवाना चाहिए जबकि आपको जब बिल बचाना है तो बिना बैटरी वाला और बिज्लिबिजली की कटोती ज्यादा है तो आप बैटरी वाला सोलर सिस्टम खरीद लीजिये !!

सोलर पैनल चोरी हो जाते है

सोलर पैनल नही लगवाने का एक और कारण यह है कि यदि सिस्टम चोरी हो गया तो क्या करेंगे साथियों हमने आपसे पहले ही कहा है कि सोलर सिस्टम महँगा होता है| 1KW सोलर पैनल की कीमत लगभग 70000 से 100000 रुपये तक हो सकती है | इस कारण से चोरी होने का डर रहता है| शहर में तो चोरी होने का डर कम होता है लेकिन गाँव में सुनसान खेत पर सिंचाई पम्प के लिए यदि हम सोलर पैनल लगाते है तो वहाँ चोरी होने का डर किसानो को होता है |

इसके लिए उपाय यह है कि किसानो को अपने खेत पर सोलर सिस्टम लगवा कर उसके चारो ओर तारबन्दी (तारों को बांधना) करवा देनी चाहिए या आप सोलर ट्राली का उपयोग कर सकते है | यदि छत पर सोलर पेनल का चोरी का डर है तो आप ऊचे स्टेंड के साथ या छज्जे के उपर लगवा सकते है ! कही सारे लोग सोलर के चारो और लोहे सरिये लगवा देते है !

मेरे सोलर पेनल ताऊते जेसे अंधी तूफान में उड़ गए तो


सोलर पैनल का नहीं लगवाने का सबसे बड़ा कारण आंधी तूफान का डर रहता है की कही सोलर तेज हवा के करना उड़ नही जाये दोस्तों डरने की कोई बात नही है आप बढ़िया और मजबूत GI कोटेड स्टेंड का उपयोग कर सकते है और खेतो में लगे हुए सोलर को आप तेज आंधी से पहले अच्छे मजबूत तार से बांध सकते है जिससे स्ट्रक्चर नही घुमे और पैनल सुरक्षित रहे !

सोलर पेनल लम्बे समय तक नहीं चलते है

कही बार लोग पैसे बचाने के चक्कर में कम क्वालिटी के c ग्रेड के सोलर पैनल खरीद लेते है जिसकी वारंटी व लाइफ कम होती है वो कुछ ही दिनों के बाद बिजली बनाना कम कर देते हैं और दुसरे लोगो को यह लगता है की सोलर पैनल सही से कम नही करते है लेकिन अगर आप A ग्रेड के सोलर खरीदते है तो आपको यहाँ पर 25 साल तक की वारंटी व लाइफ मिलती है !!

और अधिक विस्तार से जानने के लिए विडियो देखे

यदि आपको इन कारण के आलावा अन्य कारण पता है तो आप टिपणी करके बताये !! आप इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करे !!

धन्यवाद

लेखक – गमेर सिंह राणावत

सहायक – जीवन चौबीसा हिन्ता

यह भी पड़े

सिम्हा किट क्या है ? सिम्हा किट के फायदे क्या है ? यह सभी ट्रेक्टर में कैसे कम करता है

घर पर शुद्ध ऑर्गेनिक तेल निकालने की घाणी, निकाल सकते है 12 से भी ज्यादा तिलहनी फसलो का तेल

सौर उर्जा कृषि पंप के 10 फायदे

खेती के लिए सोलर तकनिकी केसे आई जाने टेक मेवाड़ी के साथ !!

मोनोक्रिस्टलाइन (Monocrystalline) Vs पॉलीक्रिस्टलाइन (Polycrystalline)

घर के लिए सोलर सिस्टम में क्या क्या खरीदना जरुरी होता है

सोलर सिस्टम क्या होता है जाने टेक मेवाड़ी के साथ ? what is solar system ? ?

2 किलोवाट AC मोड्यूल सोलर सिस्टम से चलाये AC, गीजर, कूलर, चक्की, पानी पंप एव घर का पूरा लोड कैसे ? जाने टेक मेवाड़ी के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: