इलेक्ट्रिक स्कूटर / बाइक अब 1 लीटर पेट्रोल के खर्च पर 400 किलो मीटर चलेगी ……

electric scooter price in India !! Which Electric Scooter is best in India ? Which is the cheapest electric scooter in India ?

साथियों, आज के समय में प्रदुषण काफी बढ़ चूका है | हर जगह गाडियों के धुएँ, फेक्ट्रियों से निकले धुएँ तथा केमिकल वेस्ट से प्रदुषण बढ़ता ही जा रहा है | इसकी वजह से काफी सारे लोग ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा दे रहे है | इसमें इलेक्ट्रिक साईकिल, इलेक्ट्रिक बाइक, इलेक्ट्रिक कर जेसी वाहन शामिल है जिन्हें लोग अपना रहे है | इसका एक कारण पेट्रोल तथा डीजल के बढ़ते हुए दाम भी हो सकते है जिससे लोग ग्रीन एनर्जी की तरफ रुख अपना रहे है |
तो आज बात करने वाले हम इलेक्ट्रिक स्कूटर या स्कूटी भी बोला जाता है | जो पर्यावरण के लिहाज से हानिकारक नहीं है | तो चलिए बात करते है इस नयी टेक्नोलॉजी के बारे में |

फिजिकल ओवरव्यू


साथियों इस electric scooter में आपको नार्मल बाइक की तरह ही दो ब्रेक, हेड लाइट, लाइट ओन/ऑफ बटन, हॉर्न, इंडिकेटर स्विच, तथा एक थ्रोटर या एक्सीलेटर आपको हेंडल पर मिल जाता है | इसके बाद एक डिजिटल स्क्रीन आपको मिलती है जिसमे आप स्पीड तथा बैटरी कितनी चार्ज है की जानकारी देख सकते है | इसके साथ आपको इसमें मोबाइल चार्जिंग का पोर्ट मिल जाता है जो हेंडल के राईट साइड में होता है | इसके साथ आपको हेंडल में एक खाली जगह तथा हेंगर मिल जाता है जिसमे पानी की बोतले, कुछ भी सामान रख सकते है |


इसके बाद आपको इसमें बराबर फूटरेज का एरिया मिल जाता है |
इसके साथ में आपको दो चार्जिंग पोर्ट मिल जाता है जिससे आप इसे किसी भी साइड से चार्ज कर सकते है |
इसके साथ आपको इसकी सीट के नीचे डिक्की का ऑप्शन भी मिलता है | तथा इसमें आपको डबल बैटरी का ऑप्शन भी मिलता है जिससे आपको ज्यादा रेंज मिलती है |

बैटरी


इस स्कूटर में लगभग 51 V तथा 30 Ah की बैटरी मिलती है | जो एक लिथियम आयन बैटरी होती है | जिसकी सहायता से आप इसे 50 से 60 किलोमीटर की रेंज तक चला सकते है | लेकिन अधिकतर कंपनियां क्लेम करती है कि उनका स्कूटर एक बार बैटरी चार्ज करने पर 80 किलोमीटर तक चलता है लेकिन ऐसा नहीं होता है |
कंट्रोलर
इलेक्ट्रिक स्कूटर के में ज्यादा कॉम्पोनेन्ट नहीं होते है | इसमें एक बैटरी, एक कंट्रोलर तथा मोटर लगे होते है जिनकी मदद से ये काम करता है | इसमें भी आपको एक कंट्रोलर तथा एक MCB मिल जाते है जिसकी मदद से आप स्कूटर को पूरी तरह से बंद कर सकते है |

मोटर


इसके बाद इसमें 1200 watt की हब मोटर मिलती है | जिसकी मदद से ये स्कूटर काम करता है | इसे हम इसका छोटा इंजन बोल सकते है | यानि कि ये 1200 वाट की मोटर 50 CC के इंजन के बराबर काम करती है जिससे आप इसे किसी भी घाटी या चढाई पर आसानी से चला सकते है |
इसमें आपको दो प्रकार की मोटर मिलती है जिसमे पहली हब मोटर होती है | तथा दूसरी सेपरेट मोटर होती है | सेपरेट मोटर में आपको जब इसमें स्टार्टिंग पावर ज्यादा मिलता है |
इसमें अगर आपको कोई कम्पनी 2500 वाट की मोटर देती है तो वो ज्यादा रेंज तक तथा ज्यादा स्पीड से चलती है | 2500 वाट की मोटर 125 cc के इंजन के बराबर होती है |
ब्रेक
यदि इसके ब्रेकिंग सिस्टम की बात करे तो ये इतने खास नहीं होते है जेसे हमारे नार्मल स्कूटर एकाएक रुक जाते है | वेसे ब्रेक आपको यहाँ नहीं मिलते है | जिनमे कंपनियों को सुधार करने की जरुरत है | इसमें आपको डिस ब्रेक नहीं मिलते है | नार्मल ब्रेक होते है |
इसके बाद इसमें आपको इलेक्ट्रिक बाइक होने के कारण ग्रीन कलर की नम्बर प्लेट मिल जाती है |
इसकी बॉडी प्लास्टिक तथा फाइबर की बनी होती है |

इलेक्ट्रिक स्कूटर / बाइक कीमत और रेंज

इसकी कीमत अगर आप डबल बैटरी वाला वेरिएंट खरीदते है तो आपको कीमत ज्यादा चुकानी पड़ती है | तथा इसकी रेंज भी 120 किलोमीटर तक आपको मिल जाती है |
सिंगल बैटरी वेरिएंट की कीमत लगभग 65000 से 75000 रुपये तक आपको मिल जाती है | जिसकी रेंज लगभग 80 किलोमीटर तक होती है | जो कि कम्पनी क्लेम करती है लेकिन जब हम इसे सडक पर चलाते है तो हमें 50 से 60 किलोमीटर की ही रेंज मिल पाती है |
यहाँ हम एक एवरेज कीमत की बात कर रहे है | हर कम्पनी के इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत अलग अलग हो सकती है |

इलेक्ट्रिक स्कूटर / बाइक वारंटी


ज्यादातर कम्पनी के इलेक्ट्रिक स्कूटर पर 3 से 5 साल की वारंटी मिलती है जिसमें अगर आपको कोई कम्पनी वर्ष की वारंटी दे रही है तो आप उसे एक्सटेंड करवा कर 5 वर्ष की करवा सकते है |
इसमें आपको ध्यान देने की बात यह है कि कई कंपनिया आपको कहती है कि मोटर पर 3 साल की, बैटरी पर 3 साल की तथा कंट्रोलर पर 1 साल की वारंटी मिलेगी | क्योंकी कंट्रोलर स्कूटर का मुख्य भाग होता है | आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आपको सभी कम्पोनेंट पर एक जेसी वारंटी मिले |
इसके बाद आपको यह ध्यान रखना है कि सारे कम्पोनेंट वाटर प्रूफ होने चाहिए | नहीं तो कभी गाड़ी धोते वक़्त कंट्रोलर में या बैटरी में पानी जाने से आपको नुकसान हो सकता है |

ख़रीदे या नहीं
हमारा सुझाव है कि आपको यह स्कूटर खरीदना चाहिए क्योंकी नार्मल स्कूटर 1 लीटर पेट्रोल में 40 से 50 किलोमीटर चलता है जबकि अगर आप इस स्कूटर में उतने ही रुपयों की बिजली भरेंगे तो आपको 400 किलोमीटर तक की रेंज मिल सकती है |

माइनस पॉइंट या इम्प्रूवमेंट नीड

  • इसका पहला माइनस पॉइंट यह है कि इसमें आपको स्टार्ट होने के बाद पता ही नहीं चलता है कि यह चालू है या बंद है | तो इसमें चालू तथा बंद का इंडिकेटर होना चाहिए |
  • दूसरा माइनस पॉइंट यह है कि जब इसे नॉर्मल फ्लाईओवर या घाटी चढाते है तो यह चढ़ जाता है लेकीन गाँवों में कच्चे रास्तो पर पथरीले रास्तो पर यह चढ़ाई नहीं कर पाता हैं | जिसमे कंपनियों को हाई परफोर्मेंस की बैटरी लगाने की जरुरत है |
  • बाकि तो यह बिलकुल सही टेक्नोलॉजी का प्रोडक्ट है जिसे आपको खरीदना चाहिए | इससे प्रदुषण भी नहीं होता है | तो आप इसे खरीद सकते है |

इसे आसान भाषा में समझने के लिए यह विडियो देखे

साथियों, आशा करते है आपको हमारा नयी टेक्नोलॉजी में यह आर्टिकल पसंद आया होगा | ज्यादा से ज्यादा शेयर करे

धन्यवाद |

टेक मेवाड़ी टीम

गमेर सिंह & जीवन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: